रविवार, 22 जुलाई 2007

फ़ीवर

जवानी में तन और मन पूरी बढ़त को पा चुका होता है.. ताक़त अपने चरम पर होती है.. दुनिया को परखने के लिए कसने के लिए बेचैन.. सपनों और सच्चाई में फ़र्क ज़्यादा नहीं होता.. एक पके फल की तरह सपनों को हाथ बढ़ाकर तोड़ा जा सकता है.. ऐसा एहसास हर जवां अपने दिलोजिगर में लिए फिरता है..


अक्सरियत को मालूम चलता है कि फल तो बस एक सराब था.. धोखा था.. एक झूठ था... पर कुछ विरले ऐसे भी होते हैं जो हाथ में फल लिए मिठास को दाँतों तले कुचलते मुस्कराते हैं.. और सपनों की सच्चाई पर भरोसा दिखाते हैं..जब जवानी कहा जाय तो सबब इनसे समझा जाता है.. हारे हुए को बेवक्त खज़ां की राह पर ढुनकता पाया जाता है.. अधेड़ हो जाने का मतलब ही क़ुव्वत की हदों को समझ जाना है.. समाज और शख़्स के आँकड़े में शख़्स की कमज़ोरी का एहसास हो जाना ही दुनियादार हो जाना है..

जवानी की रूमानियत में एक बुखा़र भी होता है.. उस बुखा़र के बारे में बहुतों ने लिखा है.. १९५६ में एडि कूली नाम के एक अश्वेत गायक ने एक दूसरे अश्वेत गायक ओटिस ब्लैकवेल (चित्र में एल्विस के पोस्टर के साथ) से मदद ले कर अपने फ़ीवर नाम के गाने को पूरा किया.. और गाया.. इसी गीत को १९५८ में पेगी ली ने अपनी तरह से गाया जो इतना पसंद किया गया कि तब से आज तक इस गीत के इतने कवर वर्ज़न किये जा चुके हैं कि ये सबसे ज़्यादा कवर वर्ज़न किए जाने वालों की सूची में शीर्ष के आस पास है.. मुझे ये गाना इतना पसन्द है कि इस गीत के बारह वर्ज़न्स मेरी मीडिया लाइब्रेरी में है..शायद जाती हुई जवानी को पकड़े रखने की एक नाकाम कोशिश के तहत..

इस गीत को एला फ़िट्ज़ेराल्ड, एल्विस प्रेसले, पेरिस बेनेट, बोनी एम, रे चार्ल्स और नैटली कोल, ग्रेटफ़ुल डेड, मैडोना, डॉना समर और बियान्स ने भी गाया है.. यहाँ पर पेगी ली का मौलिक वर्ज़न..



Get this widget Share Track details



Never know how much I love you / Never know how much I care / When you put your arms around me / I get a fever that's so hard to bear / You give me fever

When you kiss me / Fever when you hold me tight / Fever In the morning / Fever all through the night

Sun lights up the daytime / Moon lights up the night / I light up when you call my name / And you know I'm gonna treat you right / You give me fever

When you kiss me / Fever when you hold me tight / Fever / In the morning /Fever all through the night

Everybody's got the fever / That is something you all know / Fever isn't such a new thing / Fever started long ago

Romeo loved Juliet / Juliet she felt the same / When he put his arms around her / He said Julie, baby, you're my flame / Thou givest fever/ When we kisseth / Fever with thy flaming youth / Fever / I'm a fire / Fever, yay, I burn forsooth

Captain Smith and Pocahontas / Had a very mad affair / When her daddy tried to kill him / She said daddy, no, don't you dare / He gives me fever / With his kisses, fever when he holds me tight / Fever / I'm his Mrs. / Daddy, won' t you treat him right

Now you've listened to my story / Here's the point that I have made / Chicks were born to give you fever / Be it farenheit or centigrade / They give you fever

When you kiss them / Fever if you live, you learn / Fever / till you sizzle / What a lovely way to burn / What a lovely way to burn / What a lovely way to burn / What a lovely way to burn

7 टिप्‍पणियां:

Pramod Singh ने कहा…

सो सैड.. आई डोंट फ़ील इट.. डोंट फ़ील द फ़ीवर!

Lavanyam -Antarman ने कहा…

Clear diction & a wonderful song which I'd never heard b4 - -
Cool !
Rgds,
L

ravish ने कहा…

ऐसे लम्हों में बुखार ही तो होता है। ताप। ज्वर। उफ। प्रेम के इन क्षणों में बीमार दिल की परंपरा अपने यहां भी तो है। अभय जी...अंग्रेजी के बेहतरीन गानों की आपके मार्फत समीक्षा की एक कडी हो जाए तो बेहतर हो जाए। जैसे मुझे डेनवर का गाना..कंट्री रोड टेक मी होम...बेहतरीन लगता है। चार पांच अंग्रेजी गाने से वाकिफ हूं। लेकिन जब भी यह गाना कहीं सुनाई देता है कुछ हो जाता है।

Udan Tashtari ने कहा…

ऐसा बुखार कि शरीर तोड़ दे.

-बहुत भाया पेग ली का गीत-यू गीव मी फीवर. बहुत आभार गीत सुनवाने के लिये.

Pratyaksha ने कहा…

एला फ़िट्ज़ेराल्ड वाला वर्ज़न भी सुना दें ।

sanjay tiwari ने कहा…

कोमल स्पर्श से उठती तरंगे, झनझनाता शरीर और सनकती खोपड़ी,अलमस्त अक्खड़ता और उखाड़-पछाड़ का जज्बा तो 20-22 के बाद खत्म हो गया. हो सकता है इस गाने को सुनने से वे सारे भाव ताजा हो उठते हों. काश सुन पाता...

काकेश ने कहा…

आज बहुत दिनों की व्यस्तता के बाद फिर से वापस आया हूँ... तो पढ़ रहा हूँ आपको...

अंग्रेजी गानों की बहुत जानकारे तो नहीं है फिर भी ये गाना अच्छा लगा ...समझ मैं भी आया क्योंकि आप ने गीत के बोल जो लिख दिये थे... आभार सुनवाने के लिये...

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...